Searching...
बुधवार, 24 अक्तूबर 2007
no image

मिर्ज़ा मुहम्मद रफ़ी 'सौदा' की एक गज़ल

आज पढ़ते हैं १८वीं सदी के मशहूर शायर मिर्ज़ा मुहम्मद रफ़ी 'सौदा' की एक गज़ल. 'सौदा' का नाम उन उस्ताद शायरों में शुमार किया जाता ...

मंगलवार, 9 अक्तूबर 2007
no image

तेरा घर और मेरा जंगल - परवीन शाकिर

और आज बात करते हैं, पाकिस्तान की शायद सबसे मशहूर शायरा परवीन शाकिर की. परवीन की शायरी का केन्द्रीय विषय नारी ही रही है पर यह उनकी शायरी की ...

 
Back to top!